दीवाली खुशियाँ कैसे लाए?

दीवाली खुशियाँ कैसे लाए?

क्या आपके मन में कोई निराशा है?

अगर हाँ, तो कौन सी बड़ी बात है!
मेरे मन में भी है।
सबके मन में होती है।
क्या आपके जीवन में कोई दुख या तकलीफ है?
अगर हाँ, तो कौन सी बड़ी बात है!
मेरे जीवन में भी है।
सबके जीवन में होते हैं।
क्या परिवार में किसी विषय पर चिंता बनी रहती है?
अगर हाँ, तो कौन सी बड़ी बात है!
मेरे परिवार में भी है।
सबके परिवार में होती है।
क्या आपको लगता है कि दूसरे लोग आपसे अधिक सुखी हैं?
अगर हाँ, तो कौन सी बड़ी बात है!
मुझे भी लगता है।
सबको लगता है।
क्या आप दूसरों को खुश देखकर अच्छा महसूस करते हैं?
अगर हाँ,
तो सच में बहुत बड़ी बात है!
अगर नहीं, तो दूसरों को खुश देखकर अच्छा महसूस न भी हो तो भी अच्छा महसूस करने की कोशिश करें। अगर मन न माने तो मन से मनवाएँ। बार बार मनवाएँ। फिर मन की आदत बन जाएगी। दूसरों को खुश देखकर आपको अच्छा महसूस होने लगेगा।
आपके मन से निराशा घटने लगेगी।
आपके जीवन से दुख व तकलीफें कम होने लगेंगीं।
आपके परिवार से चिंता दूर होती जाएगी।
आपको अपने सुख ज्यादा लगने लगेंगे।
पर ध्यान रखना। घमंड मत करना। विनम्र बनकर रहना। किसी का दिल मत दुखाना।
फिर जब आपके शुभचिंतक आपको दुआएँ देंगें तो ईश्वर खुश होकर सुनेगा।
ये सब मैं इसलिए कह रही हूँ कि आपके लिए मेरी शुभकामनाएँ ईश्वर खुश होकर सुनेगा व आपके लिए जो मन से दुआ निकल रही है, पूरी होगी।
मैं दुआ करती हूँ कि यह दीवाली का त्योहार आपके जीवन में ढेर सारी खुशियाँ व स्मृद्धि लाए!
दीवाली मुबारक हो!
image

Post Comment